INITIATIVES

आयोग अध्यक्ष श्रीमती सुमन शर्मा ने बताया कि शिक्षा, चिकित्सा, खेल, समाज सेवा व महिला उत्थान के क्षेत्र में वर्षों से उत्कृष्ट कार्य करने वाली प्रदेश की ऐसी 24 महिलाओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया जो अन्य महिलाओं के लिए प्रेरणा हैं। उन्हें बधाई देते हुए अपने सम्बोधन में उन्होंने कहा कि यह पुरुष्कार आपके हौसलों के उड़ान की शुरुआत है, मंजिल नहीं। किसी भी प्रदेश की प्रगति और खुशी के इंडेक्स का पैमाना महिलाओं के चेहरे पर मुस्कान से होता है। किसी भी काम से महिलाओं का जुड़ना उस काम की सफलता की गारंटी है ।
अंत में इन पंक्तियों के साथ कि "अपने सशक्त पंखों पर विश्वास है उसे, एक खुला आकाश तो दो। उसकी शक्ति को न नकारो, एक स्वस्थ समाज तो दो।" उन्होंने अपने शब्दों को विराम दिया ।
इस अवसर पर आयोग द्वारा प्रकाशित पुस्तिका 'वसुधा' के द्वितीय संस्करण विशेषांक "खोले खुशी के द्वार,पारिवारिक सौहार्द एवं संवाद" का विमोचन किया गया तथा आयोग के कार्यों व नवाचारों से संकलित लघु चलचित्र भी प्रदर्शित की गई ।
कार्यक्रम की मुख्य अथिति राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य श्रीमती सुषमा साहू ने अपने सम्बोधन में कहा कि प्रतिदिन मां, बहन, बेटी व पत्नी के रूप में महिलाएं अपना कर्तव्य निभा रही हैं और उन्हें महिला दिवस मनाने के लिए 8 मार्च का इंतजार करना पड़ता है। समाज में महिला आज भी पिता,पति बेटे या दामाद के संरक्षण में रहने को मजबूर है, उसकी अपनी इच्छाओं व निर्णयों की कोई उपयोगिता या महत्व नहीं है। उसके मूल्यों व अधिकारों की हत्या दहेज, बाल विवाह, घरेलू हिंसा व दुष्कर्म जैसे रावण रोज़ करते हैं। आज महिलाएं व बच्चियां अपने पंखों के साथ उड़ान भरने को तैयार हैं, उन्हें हक नहीं बस साथ चाहिये। अपने जीवन के संघर्ष की कहानी सुनाते हुए उन्होंने कहा कि आज हर क्षेत्र में महिलाएं अपना उल्लेखनीय योगदान दे रही हैं। आज नारी सशक्त हो रही ताकि उसे हालातों से समझौता ना करना पड़े ।
अंत में इन पंक्तियों के साथ कि "आओ मिलकर जीने के हालात बदल डालें। हम सब मिलकर जीने के दिन रात बदल डालें"।। उन्होंने अपने शब्दों को विराम दिया ।
आयोग में सदस्य सचिव श्रीमती अमृता चौधरी ने अतिथियों का स्वागत किया तथा कार्यक्रम की रूपरेखा की जानकारी दी। सदस्य डॉ रीता भार्गव, डॉ अरुणा मीणा व श्रीमती सुषमा कुमावत रजिस्ट्रार श्री अजय शुक्ला व अति पुलिस अधीक्षक श्रीमती योगिता मीना भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे